Friday , 22 September 2017

गौरी लंकेश की हत्या – खोखला हो गया है तंत्र

एक तस्वीर की आंखों में बार बार देख रहा हूं कल से। तस्वीर देख भावुक हूं। दिल पसीज रहा है। गला भर आता है कभी-कभी। कोई ...

डेरा सच्चा सौदा – स्थापना से लेकर विवादों तक

- 1948 में डेरा सच्चा सौदा की स्थापना शाह मस्ताना ने की। - 1990 में डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह ने गद्दी संभाली। - 1998 ...

राम रहीम दोषी – आस्था सिर्फ बाबा में नहीं देश के कानून में भी रखें

आखिरकार संत गुरमीत राम रहीम सिंह इंसा को साध्वी यौन शोषण मामले में सीबीआई की पंचकुला स्थित विशेष अदालत ने दोषी क़रा ...

डेरा सच्चा सौदा सिरसा के भक्तों को खुला खत

धन धन सतगुरु तेरा ही आसारा, सतगुरु की प्यारी साध संगत बड़े व्यथित मन से इस खत के जरिये आपसे संवाद कर रहा हूं। डेराम ...

राम चन्द्र छत्रपति –  एक जिद का सफरनामा

दरअसल छत्रपति केवल एक पत्रकार का नाम नहीं है। वे गणेश शंकर विद्यार्थी की परंपरा के एक ऐसे पत्रकार थे जो  सच्चाई के ...

ब्लू व्हेल मौत का खेल – बच के रहना रे बाबा

बच के रहना रे बाबा बचके रहना रे, बचके रहना रे बाबा तुझपे नज़र है, तेरे पिछे आये तेरे ही दिवाने झूमे नाचे गाये आये र ...

Next Prev
गौरी लंकेश की हत्या – खोखला हो गया है तंत्र

एक तस्वीर की आंखों में बार बार देख रहा हूं कल से। तस्वीर देख भावुक हूं। दिल पसीज रहा है। गला भर आता है कभी-कभी। कोई नहीं है पास जो मेरी नम आ ...

Read More »
डेरा सच्चा सौदा – स्थापना से लेकर विवादों तक

- 1948 में डेरा सच्चा सौदा की स्थापना शाह मस्ताना ने की। - 1990 में डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह ने गद्दी संभाली। - 1998 में गांव बेगू का एक बच्च ...

Read More »
राम रहीम दोषी – आस्था सिर्फ बाबा में नहीं देश के कानून में भी रखें

आखिरकार संत गुरमीत राम रहीम सिंह इंसा को साध्वी यौन शोषण मामले में सीबीआई की पंचकुला स्थित विशेष अदालत ने दोषी क़रार दे दिया है। भले ही देर ...

Read More »
डेरा सच्चा सौदा सिरसा के भक्तों को खुला खत

धन धन सतगुरु तेरा ही आसारा, सतगुरु की प्यारी साध संगत बड़े व्यथित मन से इस खत के जरिये आपसे संवाद कर रहा हूं। डेरामुखी संत गुरमीत राम रहीम ज ...

Read More »
राम चन्द्र छत्रपति –  एक जिद का सफरनामा

दरअसल छत्रपति केवल एक पत्रकार का नाम नहीं है। वे गणेश शंकर विद्यार्थी की परंपरा के एक ऐसे पत्रकार थे जो  सच्चाई के पक्ष में निर्भीकता के साथ ...

Read More »
scroll to top