Tuesday , 26 September 2017

Home » खबर खास » बैंक कर्मी बांटे नोट अपनों-अपनों को दे

बैंक कर्मी बांटे नोट अपनों-अपनों को दे

5 लाख के नए नोट बैंक के कर्मचारियों ने आपस में बाँट लिये!

November 25, 2016 12:13 pm by: Category: खबर खास Leave a comment A+ / A-

24-pun-01

पुण्डरी (कृष्ण प्रजापति ) : नोट बन्दी के 15 वे दिन भरोसेमंद सूत्रों और खुद की रिपोर्ट के अनुसार खास खबर ये है कि कैथल जिले के बैंक कर्मचारी और अधिकारी जिले के प्रमुख अधिकारियो के साथ मिलकर मोदी जी के इस सफल फैसले को कमजोर करने में लगे हुए हैं । वे चाहते हैं कि लोग नाराज हों ,परेशान हों । आज सच कहूँ के सवांददाता कृष्ण प्रजापति ने खुद कई बैंको में खासकर पंजाब नैशनल बैंक करनाल रोड , एच डी एफ सी बैंक कैथल और पुण्डरी में और गीता भवन मन्दिर के पास वाली स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया की ब्रांच में जाकर देखा कि कैसे कर्मचारी लाइनों में लगे लोगो को तो कैश खत्म होने की बात कह रहे हैं और खुद के कैबिन में बैठे रसूख दारो को पैसे दे रहे हैं। जी हाँ ऐसा जिले के कई बैंको की शाखों में हो रहा है। कुछ दिन पहले कैथल के ही गीता भवन मन्दिर के पास वाली एसबीआई बैंक के मैनेजर रंगा की करतूत जनता के सामने रखी थी कि किस प्रकार बैंक में जनता परेशान थी और ये साहब अपने रशुखदारो के साथ चाय की चुस्कियो में मस्त थे। ताजा माला पीएनबी बैंक कै है जहाँ लोगो के धीरज की कड़ी परीक्षा ली जा रही है। जिले के अधिकारी भी इनके खिलाफ कार्रवाई करने की हिम्मत तक नहीं कर रहे। साहब जी जनता निठल्ले कर्मचारी और ऐसे अधिकारियो के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रही है।

अभी कुछ दिन पहले कैथल के डीसी साहब ने बैंको के अधिकारीयों और एल डी एम की बैठक ली थी जिसमे बैंको में पानी और टोकन देने की बात और निर्देश भी दिए गए थे लेकिन आज तक वे आदेश लागु नहीं हैं।

भरोसेमन्द सूत्रों से पक्की खबर यह भी मिली है कि कैथल के करनाल रोड पर स्थित पंजाब नॅशनल बैंक की ब्रांच में 5 लाख के 500-500 के नए नोट आये थे, जिन्हें बैंक के सभी कर्मचारियों ने आपस में बाँट लिया है।  मामले की सचाई ये कि लाइनों में लगे लोगो को कैश ना होने की तो कुछ को एटीएम में कैश  डालने की बात बोल रहे हैं जबकि एटीएम को ताला लगा हुआ है और पूछने पर तकनीकी खराबी आने की बात कह रहे हैं।

नोटबंदी पर बैंको में लोगो की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही। पूंडरी  क्षेत्र में भी सभी बैंको का यही हाल है। सभी बैंको और एटीएम के बाहर लोगो की लंबी-लंबी लाइन लगी रहती है। हर रोज़ सुबह से ही लोग अपने रोज़मर्रा के काम छोड़ बैंक में आ जाते हैं और पूरे दिन लाइन में लगने के बाद चंद लोगों को ही 2-4 हजार रूपए मिल पाते हैं। एटीएम में भी यही हाल है कही कॅश ख़त्म है तो कहीं सर्विस नहीं मिल पा रही है। ग्रामीण बैंक फरल और केनरा बैंक फरल, हरियाणा ग्रामीण बैंक टीक, ढांड का कई दिन से कैश खत्म है। एसबीआई शाखा ढांड, पीएनबी ढांड, एक्सिस, आईसीआईसीआई, कॉपरेटिव सोसाइटी, पोस्ट ऑफिस आदि सभी में लोगों की सुबह से शाम तक भीड़ लगी रहती है। शादी-ब्याह के सीजन में पैसों की कमी ने यह परेशानी और बढ़ा दी है।

क्या कहते हैं बैंक मैनेजर

उधर हरियाणा ग्रामीण बैंक फरल के मैनेजर देवीदयाल ने बताया कि कैथल जिले की हमारी 28 ब्रांच है, हर बैंक को केवल 50-60 हजार रुपए ही मिलते हैं लेकिन पैसे लेने वाले लोगों की संख्या बहुत ज्यादा होती हैं जिससे लोगों को काफी परेशानी हो रही है। जो हमारे बैंक का खाता धारक नहीं है उसके पैसे बदलने के लिए कोई हिदायत नहीं है। जिस उपभोक्ता का बैंक में खाता है उसको भी 10 हजार की बजाए केवल 6000 रुपए ही दिए जा रहे हैं।

यदि मैनेजर की बात सच मानी जाये तो यह गंभीर मसला है 6 हजार के हिसाब से तो सिर्फ 10 लोगों को ही पैसे मिल सकते हैं। 2 हजार भी लगायें तो सिर्फ 30 लोग ऐसे में इस सीमित समय में इतने लोगों को पैसे की आपूर्ति करना चिंताजनक है।

वहीं केनरा बैंक फरल  में आये उपभोक्ताओं ने ब्रांच के कर्मचारियों सहित गार्ड पर भी दुर्व्यवहार करने के आरोप लगाए। जिससे वहां मौजूद लोग भड़क गए और उनके खिलाफ रोष जताया। लोगों ने बताया कि बैंक मैनेजर अपने चहेते लोगों के पैसे तो बिना लाइन बदलवा रहे हैं और जो लोग लाइन में सुबह से लगे हैं उनकी कोई पूछ नही कर रहे। हर 10 मिनट में कुर्सी से कर्मचारी नदारद रहते हैं। इस पर मैनेजर चेतन कहते हैं हमारे पास कैश लिमटिड़ है जिससे परेशानी हो रही है, वे अपील भी करते हैं कि जिसको जितनी जरूरत है उसके अनुसार ही कैश लें। शादी कार्ड वालो को भी कैश आने पर ही दिया जायेगा।

कुल मिलाकर लोग देशभक्ति की परीक्षा दे रहे हैं, लेकिन बावजूद इसके हालात सुधरते हुए दिखाई नहीं दे रहे ऐसे में लोगों के सब्र का बांध कब टूट जाये कुछ कहा नहीं जा सकता। एक अच्छे फैसले के लागू करने के पुख्ता अंजामों के अभाव में लोगों का भी सरकार से मोहभंग होने लगा है।

बैंक कर्मी बांटे नोट अपनों-अपनों को दे Reviewed by on . पुण्डरी (कृष्ण प्रजापति ) : नोट बन्दी के 15 वे दिन भरोसेमंद सूत्रों और खुद की रिपोर्ट के अनुसार खास खबर ये है कि कैथल जिले के बैंक कर्मचारी और अधिकारी जिले के प पुण्डरी (कृष्ण प्रजापति ) : नोट बन्दी के 15 वे दिन भरोसेमंद सूत्रों और खुद की रिपोर्ट के अनुसार खास खबर ये है कि कैथल जिले के बैंक कर्मचारी और अधिकारी जिले के प Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top