Tuesday , 24 October 2017

Home » खबर खास » कैंसर से लड़ रहे सिंधानी गांव में खुशी की लहर, जलघर के लिए पंचायती जमीन देने का ऐलान

कैंसर से लड़ रहे सिंधानी गांव में खुशी की लहर, जलघर के लिए पंचायती जमीन देने का ऐलान

September 5, 2016 5:42 pm by: Category: खबर खास Leave a comment A+ / A-

sindhani 2

बीते दिनों कैंसर को लेकर चर्चा में आया गांव सिंधानी अभी पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हो पाया है। बता दें कि हाल में गांव में कैंसर को  लेकर सर्वे किया गया था। इस सर्वे अधिकारियों ने  10 साल तक का कैंसर से हुई मौतों का ब्योरा लिया। बता दें कि अंतिम सर्वे के उपरांत कैंसर के मरीजों की संख्या 35 से जियादा थी।

आपको बता दें पिछले दस सालों में यहां पर कैंसर से 70 के करीब लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं गांव के अनेक लोग चर्म रोग से पीड़ित पाए गए हैं। करीब सौ से भी ज्यादा लोग पेट की बीमारी से ग्रस्त हैं। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी सिंधानी अगेंस्ट कैंसर समिति के सदस्य सर्वे की रिपोर्ट तैयार कर स्वास्थ्य विभाग अधिकारियों को सौंपने की तैयारी में लगे हुए हैं।

बीते रविवार को गांव में फैली बिमारियों की रोकथाम को लेकर गांव में बनाए जाने वाले नहरी पाली के जलघर के लिए पंचायती जमीन देने का ऐलान किया गया। इस दौरान सरपंच बिकर सिंह समेत सभी हाजिर पंचों ने अपनी सहमति की मुहर लगाते हुए इस प्रस्ताव को मंजूरी दी, जिसके बाद गांव में खुशी का माहौल है। कैंसर से लड़ी जा रही लड़ाई में इसे अहम कदम माना जा रहा है। बता दें कि ये जमीन जलापूर्ति एवं अभियांत्रिकी विभाग की ओर से मांगी गई थी।

sindhani 3

गौरतलब है कि पिछले दिनों सिंचाई विभाग के एसडीओ रणजीत सिंह ने भी कहा था कि विभाग की ओर से 26 लोगों को नहर में गंदा पानी डालने के आरोप में नोटिस भेजा गया है। वहीं उन्होनें नहर में गंदा पानी डालने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की भी बात कही थी।

कैंसर से लड़ रहे सिंधानी गांव में खुशी की लहर, जलघर के लिए पंचायती जमीन देने का ऐलान Reviewed by on . बीते दिनों कैंसर को लेकर चर्चा में आया गांव सिंधानी अभी पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हो पाया है। बता दें कि हाल में गांव में कैंसर को  लेकर सर्वे किया गया था। इस सर् बीते दिनों कैंसर को लेकर चर्चा में आया गांव सिंधानी अभी पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हो पाया है। बता दें कि हाल में गांव में कैंसर को  लेकर सर्वे किया गया था। इस सर् Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top