Tuesday , 26 September 2017

Category: साहित्य खास

Feed Subscription

साहित्य खास

शीशम का पेड़

शीशम का पेड़

कवि इंद्रजीत की हरियाणवी बोली पर गजब की पकड़ है, हास्य और गंभीरता का जो मेल इंद्रजीत की कविताओं में मिलता है वह काबिले तारीफ है। एवन तहलका में कार्य के दौरान इंद्रजीत से परिचय हुआ ...

Read More »
इसा पाणी सै हरियाणे का

इसा पाणी सै हरियाणे का

इसा पाणी सै हरियाणे का म्हारे जैसा इतिहास खोज ल्यो और किते नहीं पाणे का। धरती जामै वीर गाभरू इसा पाणी सै हरयाणे का। कोई भी संकट आया हम जमा नहीं घबराये कदे। अपने हठ तै गोकुल नै औरं ...

Read More »
आजादी मेरा ब्रांड – अनुराधा बेनीवाल की बेहतरीन किताब

आजादी मेरा ब्रांड – अनुराधा बेनीवाल की बेहतरीन किताब

मैं घुम घुम देखूंगी सारा हरियाणा ये गीत तो आपने सुना ही होगा। इसमें महिला की सिर्फ हरियाणा भर को देखने की इच्छा है। आप सोच सकते हैं जिन महिलाओं को घर की चारदिवारी से बाहर सिर्फ गा ...

Read More »
‘पगड़ी द ऑनर’ – पूरे सिनेमा हॉल में मात्र दो दर्शक

‘पगड़ी द ऑनर’ – पूरे सिनेमा हॉल में मात्र दो दर्शक

अपनी रीलिज से पहले पगड़ी कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त कर चुकी है। फिल्म से जुड़े निर्माता निर्देशक से लेकर कलाकारों तक फिल्म को मिले पुरस्कारों से काफी उत्साहित ...

Read More »
जलग्या हरियाणा

जलग्या हरियाणा

आरक्षण की आड़ मैं देखो, हरियाणा जलग्या भाई हक की खातिर लड़ने आळे, क्यूं बण बैठे दंगाई बड़ी मुश्किल तै हाड घसा कै, खड़ी करी थी मनै दुकान जींदगी मैं कदे देख्या ना था, एकदम आया इसा त ...

Read More »
scroll to top