Tuesday , 21 August 2018

Category: खबर खास

Feed Subscription

खास खबर यानि की स्पेशल स्टोरी विशेष समाचार लेख आदि।

  • कबीर- धार्मिक आंडम्बरो के खिलाफ लङने वाले महान समाज सुधारक

    कबीर- धार्मिक आंडम्बरो के खिलाफ लङने वाले महान समाज सुधारक

    कबीर- धार्मिक आंडम्बरो के खिलाफ लङने वाले महान समाज सुधारक विभिन्न साक्ष्यों और विद्वानों के मतानुसार यह ज्ञात होता है कि कबीर अनपढ़ थे, अतः उन्होंने स्वयं कोई भी रचना लिपिबद्ध नहीं ...

  • मा. सतबीर – गायकी में भी मास्टरी थी मास्टर जी की

    मा. सतबीर – गायकी में भी मास्टरी थी मास्टर जी की

    आज की पीढ़ी को पंडित लख्मीचंद को देखना नसीब नहीं हुआ क्योंकि वह बहुत पहले अपना सबकुछ आने वाली पीढियों को समर्पित करके जा चुके हैं लेकिन पुरानी के साथ आज की पीढ़ी पंडित लख्मीचंद, मा ...

  • 2 अप्रैल भारत बंद – एक मूल्यांकन

    2 अप्रैल भारत बंद – एक मूल्यांकन

    2 अप्रैल भारत बंद - एक मूल्यांकन 2 अप्रैल को हुआ "भारत बंद" जिसमे दलित-आदिवासी एकता मजबूत नजर आयी। बहुमत आदिवासी और दलित जातियां इस बन्द में शामिल रही। इसके साथ ही देश के प्रगतिशील ...

  • खत्म होता लोकतंत्र

    खत्म होता लोकतंत्र

    माफ कीजिएगा आज बड़ा मजबूर होकर के लिखना पड़ रहा है कि हमारे देश के बड़े नामचीन पत्रकारों, संपादको ने अपनी आत्मा अपने संस्थान के मालिकों के पास गिरवी रख दी है नही तो यह ख़बर आपको इस पोस ...

रेड सेल्यूट ! कॉमरेड अजीत सिंह ज्याणी

रेड सेल्यूट ! कॉमरेड अजीत सिंह ज्याणी

  आदमी की महानता बाजार और भीड़ ही तय करे ये जरूरी नहीं, बुद्धिमता या व्यक्तित्व तौर पर कुछ आदर्श हमारे आसपास भी हो सकते हैं। हमारे पास किसी की कितनी भी यादें हो, जिए हुए पल हो ...

Read More »
आसमान पर मक्खियां भिन भीना रही हैं

आसमान पर मक्खियां भिन भीना रही हैं

  आसमान पर मक्खियां भिन भीना रही हैं सूरज किसी निर्दोष के खून का धब्बा है पृथ्वी मेज पर नचा कर छोड़ा हुआ एक अंडा है जिसके गिरकर फूटते ही सारा आदर्श बह कर बेकार हो जाएगा जिसके ...

Read More »
नवीन जिन्दल को खुला पत्र

नवीन जिन्दल को खुला पत्र

नवीन जिन्दल को खुला पत्र प्रिय जिन्दल साहब, उड़ीसा में अंगुल में ग्रामीणों पर आपके सुरक्षाकर्मियों द्वारा किये गये हमले के चित्र और वीडियो देख रहा था|  चित्र में एक डेढ़ साल के बच ...

Read More »
आठ तारीख महीना जनवरी का…..

आठ तारीख महीना जनवरी का…..

आठ तारीख महीना जनवरी का..... इसी दिन सन दो हज़ार नौ (2009) में छत्तीसगढ़ ज़िले में एक ऐसी घटना घटित हुई थी जो मेरे मन से कभी नहीं मिटेगी। ये तब की बात है जब मैं दंतेवाड़ा में ही काम क ...

Read More »
सोशल साईट पर अनपढ़ों की जमात

सोशल साईट पर अनपढ़ों की जमात

सूचना-तकनीक का विकास वरदान भी है, और अभिशाप भी। पिछले कुछ सालों में मैं देख रहा हूं मेल-मिलाप, बातें, चिंतन, लेखन और पठन की ओर रूझान लगभग खत्म सा होता जा रहा है। तो वहीं फेसबुक, व ...

Read More »
गणतंत्र का मतलब – हिमांशु कुमार

गणतंत्र का मतलब – हिमांशु कुमार

पहले गणतंत्र से दो दिन पूर्व हिंदुस्तान टाइम्स में अनवर अहमद काकार्टून जिसमे नवजात गणतंत्र को डॉ .आम्बेडकर अपने गोद में लिए प्यार सेनिहार रहे हैं साथ में जवाहर लाल, राजेन्द्र प्रस ...

Read More »
दारुल उलूम देवबंद का फतवा

दारुल उलूम देवबंद का फतवा

दारुल उलूम देवबंद का फतवा            दारुल उलूम देवबंद कह रहा हैं कि मुसलमानों को ऐसे परिवारों में रिश्ता करने से बचना चाहिए जिनका मुखिया बैंक में नौकरी करता हो।उसने कहा है कि बैं ...

Read More »
आइए अभी तो वक्त है

आइए अभी तो वक्त है

आइए अभी तो वक्त है आइए अभी तो वक्त है मजदूर संगठन समीति को गैरकानूनी घोषित करती है सत्ता हजारों मजदूर संगठन चुप्पी की चादर ओढे रहते हैं नहीं करते आह्वान सड़को पर निकलने का नहीं कर ...

Read More »
आम आदमी और राज्यसभा

आम आदमी और राज्यसभा

आम आदमी और राज्यसभा श्रीमती सुनीता केजरीवाल के साथ जो अन्याय हुआ उसके लिये मुझे हार्दिक अफसोस है। वो तो हर लिहाज से काबिल थी। उनके पति कितने बड़े समाजसेवी हैं और वो खुद भी आई. ऐ. ए ...

Read More »
चौथे स्तम्भ के नीचे दब कर सो गया भारत का भविष्य

चौथे स्तम्भ के नीचे दब कर सो गया भारत का भविष्य

चौथे स्तम्भ के नीचे दब कर सो गया भारत का भविष्य चौथे स्तम्भ के नीचे दब कर सो गया भारत का भविष्य - इस नन्ही जान की कीमत क्या होगी उसके लिए जो कहने भर के लिए लोकतंत्र कहलाता है। काफ ...

Read More »
scroll to top