Thursday , 19 October 2017

Home » खबर खास » रियो पैरालिंपिक- सोना सोना हुआ भारत

रियो पैरालिंपिक- सोना सोना हुआ भारत

September 14, 2016 4:08 pm by: Category: खबर खास Leave a comment A+ / A-

devendra-gold

रियो ओलिंपिक में जब पी वी संधू फाइनल में पहुंची थी, तो पूरा देश मीडिया के जरिए संधू से सोना मांग रहा था। लेकिन सोने को लेकर बनी भारतीयों की वो उम्मीद अब भारत के दिव्यांग खिलाड़ी पूरा कर रहे हैं। ब्राजील के रियो से आई एक खबर में भारत ने एक और गोल्ड जीत लिया है। जिसका श्रेय जाता है भाला फेंक में माहिर भारतीय खिलाड़ी देवेंद्र झाझरिया को।

पहले भी जीत चुके गोल्ड

आपको बता दें कि 12 साल पहले 2004 के एथेंस पैरालंपिक में भी उन्होंने गोल्ड पर कब्जा किया था, जिसके बाद अब पैरालिंपिक में ये उनका दूसरा मेडल है। इस पदक के साथ पैरालंपिक में भारत के कुल पदकों की संख्या 4 हो गई है, जिसमें 2 गोल्ड, एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल है।

davender

वर्ल्ड रिकॉर्ड किया अपने नाम

आपको बता दें कि देवेंद्र ने अपना ही रिकॉर्ड तोड़कर ये पदक अपने नाम किया है। उन्होनें 63.97 मीटर दूर जेवलिन फेंक कर एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाया है। एथेंस पैरालंपिक में उन्होंने 62.15 मीटर जेवलिन फेंका था, जो कि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड था।

राजस्थान के रहने वाले हैं देवेंद्र

आपको जानकारी दे दें कि 35 साल के देवेंद्र राजस्थान के चुरू के रहने वाले हैं। साल 2002 में साउथ कोरिया में हुए FESPIC  गेम्स और 2013 में आईपीसी ऐथलेटिक्स वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी वे सोना जीत चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने इसी इवेंट में सिल्वर मेडल जीता था। वहीं 2014 के एशियन गेम्स में भी सिल्वर इन्हीं के नाम रहा था। साल 2012 में उन्हें पद्मश्री भी मिल चुका है।

संघर्षशील रहे हैं देवेंद्र

देवेंद्र झाझरिया की राह में आर्थिक मुश्किलें भी खड़ी हुईं लेकिन वे लगातार आगे बढ़ते रहे। किसी साक्षात्कार में उन्होनें बताया था कि जब वे 8-9 साल के थे, तो उन्हें करीब 11000 वॉल्ट बिजली का करंट लग गया था जिसकी वजह से उन्हें अपना दाहिना हाथ खोना पड़ा।

रियो पैरालिंपिक- सोना सोना हुआ भारत Reviewed by on . रियो ओलिंपिक में जब पी वी संधू फाइनल में पहुंची थी, तो पूरा देश मीडिया के जरिए संधू से सोना मांग रहा था। लेकिन सोने को लेकर बनी भारतीयों की वो उम्मीद अब भारत के रियो ओलिंपिक में जब पी वी संधू फाइनल में पहुंची थी, तो पूरा देश मीडिया के जरिए संधू से सोना मांग रहा था। लेकिन सोने को लेकर बनी भारतीयों की वो उम्मीद अब भारत के Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top