Tuesday , 26 September 2017

Home » खबर खास » पैरालिंपिक में भारत की ऐतिहासिक जीत, हरियाणा की दीपा ने जीता सिल्वर

पैरालिंपिक में भारत की ऐतिहासिक जीत, हरियाणा की दीपा ने जीता सिल्वर

September 13, 2016 11:07 am by: Category: खबर खास Leave a comment A+ / A-

deepa-malik

हरियाणा की बेटीयों द्वारा खेल क्षेत्र में जब कोई उपलब्धि अपने नाम की जाती है तो हम हरियाणा के रहने वाले गर्व से फूल पड़ते हैं, और उपलब्धि जब बड़ी हो तो और भी फक्र की बात हो जाती है रियो ओलिंपिक में साक्षी मलिक जो मेडल लेकर आई थी; आज तक हम उसे शाबाशी देते नहीं थक रहे है। तो इसी बीच हरियाणा की एक ओर बेटी ने रियो पैरालिंपिक में सिल्वर मेडल अपने नाम किया है जिसका नाम है दीपा मलिक।

आपको बता दें कि भारत की दीपा मलिक ने शॉट-पट में अपनी मेहनत से रजत पदक भारत की झोली में डाला है। दीपा ने 4.61 मीटर तक गोला फ़ेंका और दूसरा स्थान हासिल किया। वहीं इस सिल्वर के साथ पैरालिंपिक खेलों में मेडल जीतने वाली दीपा पहली भारतीय महिला भी बन गई हैं। इसी खेल में बहरीन की फातेमा निदाम ने 4.76 की दूरी तय कर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया जबकि ग्रीस की दिमित्रा कोरकिडा ने कांस्य पदक अपने नाम किया है।

जानकारी के लिए बता दें कि इस स्पर्धा में कुल सात खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। लेकिन मैक्सिको की इस्टेला सालास इसकी शुरुआत नहीं कर पाईं, दीपा के इस पदक के साथ ही भारत के इन रियो पैरालिंपिक्स खेलों में कुल मिलाकर तीन पदक हो गए हैं। याद दिला दें कि थंगावेलु मरियप्पन ने भारत को ऊंची कूद में स्वर्ण और वरुण भाटी ने इसी स्पर्धा में कांस्य पदक भारत के नाम किया था।

45 साल की दीपा रियो में प्रतिनिधित्व कर रहे हरियाणा के 10 खिलाड़ियों में से एक हैं और साल 2012 में उन्हें अर्जुन पुरस्कार से नवाज़ा गया था। दीपा ने राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल जीते हैं, जो कि वो शॉट-पट के अलावा, जैवलिन थ्रो और मोटर साइकलिंग में है। गौरतलब है कि दीपा से पहले इन्हीं पैरालिम्पिक खेलों की हाई जम्प प्रतियोगिता में भारत गोल्ड और ब्रॉन्ज मेडल जीत चुका है।

पैरालिंपिक में भारत की ऐतिहासिक जीत, हरियाणा की दीपा ने जीता सिल्वर Reviewed by on . हरियाणा की बेटीयों द्वारा खेल क्षेत्र में जब कोई उपलब्धि अपने नाम की जाती है तो हम हरियाणा के रहने वाले गर्व से फूल पड़ते हैं, और उपलब्धि जब बड़ी हो तो और भी फक हरियाणा की बेटीयों द्वारा खेल क्षेत्र में जब कोई उपलब्धि अपने नाम की जाती है तो हम हरियाणा के रहने वाले गर्व से फूल पड़ते हैं, और उपलब्धि जब बड़ी हो तो और भी फक Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top