Thursday , 19 October 2017

Home » खबर खास » हानिकारक बापूः शुद्ध हरियाणवी मिज़ाज का गाना है

हानिकारक बापूः शुद्ध हरियाणवी मिज़ाज का गाना है

November 14, 2016 6:21 pm by: Category: खबर खास, मनोरंजन खास Leave a comment A+ / A-

haanikaarak-babu

दंगल फिल्म का दंगल शुरु हो चुका है। फिल्म के ट्रेलर के बाद फिल्म के पहले गाने हानिकारक बापू ने भी धमाल मचा रखा है। प्योर हरियाणवी मिज़ाज का गीत है हानिकारक बापू। कमाल की बात है कि इस गीत को लिखने वाले हरियाणा से नहीं हैं लेकिन गीत में हरियाणवी मूड जिस प्रकार से उभर कर आया है उससे लगता है जैसे गीतकार ने इसे जिया हो।

हरियाणवियों की खास बात यह है कि उनके साथ किसी प्रकार की जोर जबरदस्ती कोई करने लग जाये और वो माता-पिता या गुरु हों तो उन्हें खलनायक के तौर पर देखा जाने लगता है। सामने डर के मारे चाहे जबान न खुले लेकिन पीठ पीछे बोगैंबो (मोगाम्बो), हिटलर, अमरीश पुरी, तुगलक कुल मिलाकर देखी गई फिल्मों और पढ़े गये इतिहास के सारे खलनायकों के नाम रख दिये जाते हैं। दंगल फिल्म के इस पहले गीत की पहली पंक्ति में ही हरियाणवी के उस रस की अनुभूति हो जाती है जो अब तक बॉलीवुड के साथ-साथ हरियाणवी फिल्मों से भी अछूता रहा है।

“बापू सेहत के लिये तू तो हानिकारक है” जिस सिद्दत के साथ गाने को लिखा गया है उसी सिद्दत के साथ इसे गाया और फिल्माया भी गया है। बाल कलाकार के रूप में गीता और बबीता का किरदार निभा रही ज़ायरा वसीम और सुहानी भटनागर के अभिनय को आमिर खान स्वयं से दस गुना बेहतर बना रहे हैं। मासूमियत के भावों से भरी उनके अभिनय के एक झलक इस गीत में भी देखी जा सकती है। सरवर खान और सरताज़ खान बार्ना की आवाज़ तमाम बच्चों की आवाज़ बनकर कानों में गूंजती है।

 सुल्तान फिल्म आने से पहले तक बॉलीवुड में हरियाणा को जिस तरीके से फिल्माया गया है उससे हरियाणा की छवि नकारात्मक ही स्थापित हुई है लेकिन जैस खेलों से लेकर खलिहानों तक हरियाणा ने अपना परचम लहराया है उससे अब सिनेमा भी सकारात्मक हुआ है। सुल्तान के बाद दंगल को देखना सुखद रहेगा। हरियाणवी सिनेमा के पास हालांकि इतना बड़ा बैनर और बजट नहीं है लेकिन फिर भी कम से कम कंटेंट के उच्च मानकों को सीमित साधनों में भी बरकरार रखा जा सकता है। निश्चित तौर पर हरियाणा की पृष्ठभूमि पर बनने वाली आगामी फिल्मों के लिये दंगल उच्च मानक कायम कर सकती है। दंगल फिल्म 23 दिसंबर को रिलीज़ होगी तब तक आनंद लिजिये हानिकारक बापू का।

बापू सेहत के लिए, तू तो हानिकारक है

हम पे थोड़ी दया तो करो, हम नन्हे बालक है

 

हानिकारक बापूः शुद्ध हरियाणवी मिज़ाज का गाना है Reviewed by on . दंगल फिल्म का दंगल शुरु हो चुका है। फिल्म के ट्रेलर के बाद फिल्म के पहले गाने हानिकारक बापू ने भी धमाल मचा रखा है। प्योर हरियाणवी मिज़ाज का गीत है हानिकारक बापू दंगल फिल्म का दंगल शुरु हो चुका है। फिल्म के ट्रेलर के बाद फिल्म के पहले गाने हानिकारक बापू ने भी धमाल मचा रखा है। प्योर हरियाणवी मिज़ाज का गीत है हानिकारक बापू Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top