Sunday , 22 October 2017

Home » खबर खास » अच्छा नॉवल साबित होगी ‘सतरंगी’ – हरविंद्र मलिक

अच्छा नॉवल साबित होगी ‘सतरंगी’ – हरविंद्र मलिक

August 24, 2016 9:18 am by: Category: खबर खास, मनोरंजन खास 1 Comment A+ / A-

Harvinder malik

राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित फिल्म सतरंगी 26 अगस्त यानि शुक्रवार से सिनेमाघरों में देखी जा सकेगी। हरियाणा सरकार ने भी फिल्म को कर मुक्त कर दिया है तो अब आपको मनोरंजन के लिये कोई टेक्स नहीं देना पड़ेगा जिसकी फिल्म निर्देशक से लेकर पूरी टीम गारंटी दे रही है। फिल्म को तो आप देखेंगे ही लेकिन किसी भी फिल्म के लिये खास तौर पर भारतीय सिनेमा की बात करें तो संगीत उसका अहम पहलू होता है कई बार तो फिल्म के एक गीत तक का आकर्षण दर्शकों को सिनेमाघरों तक खींच लाता है। हाल ही में छोटे-छोटे प्रोमो के रुप में लॉंच हुए सतरंगी के गाने भी सोशल मीडिया पर खूब शेयर और पसंद किये जा रहे हैं। खासकर हरियाणवी युवा इन्हें हाथों हाथ ले रहे हैं। एक गीत ‘मेरे नाम की रिंगटोन’ भी इसी फिल्म का है जिसकी एक पंक्ति ‘अंतर करना सीख ले छोरी खच्चर घोड़या मैं’ भी काफी चर्चित हो रही है। इसके अलावा फिल्म में तीन अन्य गीत और हैं जिनमें एक रोमांटिक गीत ‘तू चांद मेरा’ भी काफी अच्छा है। जैसा कि फिल्म को बाप बेटी के पवित्र प्रेम की कहानी बताया जा रहा है पिता के प्रति अपने प्यार को बेटी अपने पिता के जन्मदिन के अवसर पर एक गीत के जरिये बता रही है ‘हैप्पी बड्डे टू यू पापा जी’ और एक रागनी जीणा दूभर होज्या भी विरह के भावों को व्यक्त करती नजर आयेगी। फिल्म के गीत एंडी रिकोर्डस के बैनर तले रीलिज किये गये हैं। एंडी शब्द हालांकि हरियाणा के लिये नया नहीं है लेकिन एंडी रिकोर्डस् को लेकर आपकी जिज्ञासा जरुर जाग उठी होगी तो एंडी रिकॉर्डस् हरियाणवी शब्दों को ब्रांड के तौर पेश करने के लिये जाने जाने वाले एवन तहलका हरियाणा के निदेशक रहे हरविंद्र मलिक द्वारा लॉंच किया नया ब्रांड है। सतरंगी में जहां नायक, नायिका अभिनय और निर्देशक संदीप शर्मा निर्देशन में अपना डेब्यू कर रहे हैं तो वहीं एंडी रिकॉर्डस् का आगाज़ भी सतरंगी के गीतों से हो रहा है। इस बारे में हरियाणा खास के मुख्य संपादक जगदीप सिंह ने बात की हरविंद्र मलिक से पेश है उनसे हुई बातचीत के ये अंश –

जगदीप सिंह – सतरंगी के म्युजिक के बारे में कुछ बतायें

हरविंद्र मलिक – सतरंगी का म्युजिक युथ ओरिंएटिड है… आज के जमाने का है… इसमें चार गाने हैं जिसमें एक रोमांटिक गाना है… फिल्म के गाने फिल्म की सिचुएशन के हिसाब से हैं जहां फिल्म के निर्देशक गानों के हिसाब से किरदारों की बात कहना चाहते हैं वहीं पर गानों का इस्तेमाल किया गया है।

जगदीप सिंह – जी आपने बिल्कुल ठीक कहा एक गीत तो सोशल मीडिया के माध्यम से काफी चर्चित भी हो रहा है विशेषकर यह पंक्ति की अंतर करना सीख ले छोरी खच्चर घोड़्या मैं…

हरविंद्र मलिक – हां ये लाइन अच्छी है अपने आप में हमने संगीत भी प्रयोगात्मक इस्तेमाल किया है। इसमें एक रोमांटिक गाना है एक ये युथफेस्टिवल का शरारत के अंदाज में गाया गाना है जिसके बोल भी हैं मेरे नाम की रिंगटोन डाउनलोड करोड़ां मैं… करंट फ्लेवर को देखते हुए गीत बनाये गये हैं। जहां तक शब्दों का खेल और संगीत के मेल की बात है हरियाणवी का फील दिया गया है।

जगदीप सिंह – ये रिंगटोन वाला गीत पंजाब के चमकीला के दौर की याद नहीं दिलाता क्या?

हरविंद्र मलिक – नहीं ऐसा नहीं है उसी दौर में हरियाणा में गुलाब सिंह और कुसुम तंवर की जोड़ी मशहूर हुआ करती थी… अरै रै छोरी दिल्ली की तेरी कमर मैं चोटी लटकै सै… ओ छोरे हरियाणे के तू आंख्या के म्हां खटकै सै…

जगदीप सिंह – अच्छा तो ये उस जमाने का गीत है?

हरविंद्र मलिक – उस घराने का गीत कह सकते हैं… उसका परिष्कृत रुप भी इसे कह सकते हैं लेकिन ये पूरी सोच निर्देशक की है मैं इसमें कोई क्रेडिट लेना नहीं चाहूंगा मेरा इसमें इतना ही रोल है कि मेरे मित्र ने एक फिल्म बनाई उसने ही गीत संगीत बनाये मुझे काम ठीक लगा तो हम भी काफी समय से सोच रहे थे एक ब्रांड के बारे में जिसका नाम भी हरियाणवी हो काम भी हरियाणवी हो और जो थोड़ा गंभीर काम करे इसलिये हमने एंडी रिकोर्ड ब्रांड बनाया है जिसके माध्यम से सतरंगी के गीतों को रिलीज करवाया और जो प्लेटफोर्म बॉलीवुड के गानों को उपलब्ध करवाये जाते हैं उसी प्रकार पूरी दुनिया में डिजीटल फोर्म में हमनें हंगामा, आई ट्यून जैसे मंचों पर उपलब्ध करवाकर दुनिया भर में उपलब्ध करवाया। फिल्म के प्रमोशन के भी हमने बॉलीवुड की तर्ज पर रचनात्मक प्रयास किये हैं।

जगदीप सिंह – अब से पहले हरियाणवी फिल्मों के संगीत को इतने बड़े स्तर पर लॉंच करने के प्रयास शायद पहली बार हुए हैं?

हरविंद्र मलिक – हां जैसे संगीत को बनाने के रचनात्मक कार्य हुए हैं हमने इसे लॉंच करने में रचनात्मक प्रयोग किये हैं। चैनलों पर प्रोमो चलाये जा रहे हैं। दुनिया भर में हरियाणवी मौजूद है इसलिये इनकी रीच भी दुनिया भर में करवाने के प्रयास हमने किये हैं।

Logo-Andy Records

जगदीप सिंह – एंडी रिकोर्डस बनाने के पिछे आपका मुख्य ध्येय क्या है?

हरविंद्र मलिक – एंडी रिकोर्ड का उद्देश्य अच्छे संगीत को, अपने संगीत को रिलीज करने के लिये अपने ही प्लेटफोर्म को उपलब्ध करवाना है। हमने पूर्व में भी ऐसे काम किये हैं हरियाणवी पॉप की जब शुरुआत की थी तो विनस के साथ हमने उसे किया था बाद में धारे ज्यब पंहुचा इंग्लैंड हमने हमारी ही एक कंपनी शुभम के साथ किया था। अभी हमने ये नया नाम सोच के पेश किया था जैसे हमनें खबरों में खबर खखाटा दिया था इसी तरह ये एंडी हमने हरियाणवी मार्के के तौर पर लॉंच किया है। क्योंकि ब्रांडिंग बहुत मैटर करती है और एंडी के नाम से और भी कई चीज आपको आने वाले समय में देखने को मिलेंगी।

जगदीप सिंह – तो सतरंगी का संगीत लोगों की उम्मीद पर खरा उतरेगा?

हरविंद्र मलिक – हां इसमें एक गीत है जिसमें बेटी अपने पिता का जन्मदिन मना रही है। मेरे खयाल से फिल्मों के इतिहास में ये पहली बार हो रहा है कि जिसमें बेटी अपने पिता के जन्मदिन पर गीत गा रही है। जिस प्रकार अभी तक जन्मदिन की पार्टियों में हैप्पी बड्डे टू यू गीत जन्मदिन के एंथम सोंग की तरह बजता है उसी प्रकार आने वाले समय में चूंकि हम देख रहे हैं कि आजकल बेटियां विशेषकर अपने मम्मी पापा का जन्मदिन बच्चे मनाने लगे हैं तो ऐसी पार्टियों में यह गीत विशेष रुप से चला करेगा। और सच पूछो तो यह गीत इतना भावनात्मक है कि इसे सुनने के बाद ही मैनें सतरंगी के संगीत को एंडी के बैनर से लॉंच करने का निर्णय लिया और इस गीत का एंडी के बैनर से लॉंच होना हम सार्थक समझते हैं।

जगदीप सिंह – फिल्म के बारे में क्या कहना चाहते हैं?

हरविंद्र मलिक – फिल्म एक निर्देशक ने अपनी सोच से बनाई है नये ढंग से एक नई बात निर्देशक कहना चाहता है कि बच्चों को अपने पेरैंट्स के प्रति भी जिम्मेदार होना चाहिये कुल मिलाकर फिल्म के ध्येय की बात कहो तो एक अच्छा नॉवल मानी जा सकती है और संदीप जो कि इसके निर्देशक हैं ने फिल्म इंडस्ट्री में काफी काम किया है तो अपने सीखे हुए को उसने फिल्म में झौंका है तो परिणाम भी जाहिर तौर पर अच्छा देखने को मिलेगा और लगेगा कि सिनेमा के पढ़े लिखे आदमी ने फिल्म बनाई थी। और अगर मेरे लिये पूछो तो ये एक उद्देश्य की यात्रा पूरी होती है क्योंकि संदीप मेरे मित्र हैं और उनके शुरुआती दौर में फिल्मी दुनिया के प्रति इनका रुझान बढ़ाने में मेरी भी भूमिका रही है। एक दौर था जब संदीप स्कूल में शिक्षक बनने का निर्णय ले रहा तो ऐसे में उसे बंबई में आमंत्रित करना, वहां पर भी शुरुआत के लिये काम दिलाने में सहयोग करना एक्टिंग के साथ-साथ फिल्म के निर्माण के काम को सीखने के लिये प्रेरित करने की और भी मेरी भूमिका रही है और जब इनको राष्ट्रपति से सम्मान मिला तो मैंने अपने उद्देश्य और दो मित्रों की यात्रा को सफल होते देखा।

जगदीप सिंह – एंडी रिकोर्डस के फ्यूचर के क्या प्लान हैं?

हरविंद्र मलिक – एंडी रोकोर्डस के बैनर से आने वाले समय में नियमित रुप से नये-नये गीत, लोकगीत, मनोरंजन के गीत अगर फिल्में भी आयी तो उनके गीतों को भी लॉंच करेंगें। आपने पहले भी देखा है कि हमने हमेशा कामयाबी की नई लाइनें खींची हैं चुनौतियां का भी डटकर और अच्छे से सामना किया है। आज के दौर में बहुत ज्यादा बेहुदगी फिल्मांकन से लेकर लेखन और गायन तक में आयी है। लेकिन हम किसी मजबूरी में या केवल और केवल पैसा कमाने के लिये ये काम नहीं कर रहे ये हमारा शौक भी है और पैशन भी हां कोशिश रहती है कि इस काम में जो खर्च होता है उसकी रिकवरी भी इसके माध्यम से हो जाये।

जगदीप सिंह – रचनात्मकता रखने वाले युवाओं के लिये क्या संदेश देना चाहेंगें?

हरविंद्र मलिक – जिस किसी में भी किसी तरह की रचनात्मकता है चाहे वह गायन में हो, लेखन में हो एक्टिंग में हमारे पास उसका स्वागत है। हमने एड फिल्मों में अनेक युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाया है। व्यक्तिपरक प्रचारात्मक गीतों की शुरुआत हमने की जिससे देखो आज हजारों लोगों को रोजगार मिला हुआ है एक दिशा देने का हमने काम किया है इससे पहले किसी के पास ऐसी सोच नहीं थी। जल्द ही हरियाणा के ऊपर गीतों की सीरीज़ एंडी के बैनर से लॉंच की जायेगी। फिल्हाल 26 अगस्त को सतरंगी रीलिज़ होगी तो फिल्म को देखने जरुर जायें

Satrangi Poster-A

 

जगदीप सिंह – हमसे बात करने के लिये शुक्रिया सर।

 

यू ट्यूब पर सतरंगी के गाने देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें

अच्छा नॉवल साबित होगी ‘सतरंगी’ – हरविंद्र मलिक Reviewed by on . राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित फिल्म सतरंगी 26 अगस्त यानि शुक्रवार से सिनेमाघरों में देखी जा सकेगी। हरियाणा सरकार ने भी फिल्म को कर मुक्त कर दिया है तो अब आपको राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित फिल्म सतरंगी 26 अगस्त यानि शुक्रवार से सिनेमाघरों में देखी जा सकेगी। हरियाणा सरकार ने भी फिल्म को कर मुक्त कर दिया है तो अब आपको Rating: 0

Comments (1)

  • Virender Jangra

    Feeling very exciting after reading the Interview on SATRANGI

Leave a Comment

scroll to top