Friday , 20 July 2018

Home » खबर खास » मुंह मीठा करादे – सांस्कृतिक रुप से हरियाणा के लिये 2018 की बेहतरीन शुरुआत  

मुंह मीठा करादे – सांस्कृतिक रुप से हरियाणा के लिये 2018 की बेहतरीन शुरुआत  

ऐसे में आने वाले समय की एक बेहतर तस्वीर कुछ कुछ उभर रही थी। जिसका परिणाम यह है कि नव वर्ष 2018 की शुरुआत मुंह मीठा करादे से हुई। हरियाणवी की असली मिठास लिये यह गीत मुकेश आल्हान ने जितनी प्रेम व माधुर्य, सरलता व सहजता के साथ लिखा है।

January 1, 2018 2:41 pm by: Category: खबर खास Leave a comment A+ / A-

मुंह मीठा करादे – सांस्कृतिक रुप से हरियाणा के लिये 2018 की बेहतरीन शुरुआत  

हरियाणवी गाने अगर यू ट्यूब पर सर्च किये जायें तो किसी भी भले व्यक्ति को निराशा हाथ लग सकती है इसका कारण है गानों के नाम पर वहां गंद बहुत ज्यादा मिलता है। साल में कोई-कोई ईक्का-दुक्का गाना ऐसा बनता है या बनाया जाता है जिसे याद रखा जा सके या जिसे कहा जा सके कि वाकई अच्छा है। लेकिन हाल ही में विशेषकर 2017 के उतर्राध में हरियाणवी गानों की गुणवत्ता में काफी सुधार आया है। इसका एक कारण यह भी हो सकता है कि हरियाणवी सब का ध्यान आकर्षित कर रही है।

फिल्मों में हरियाणवी का कोई कोई चरित्र या कोई गाना, आजकल तो पूरी की पूरी फिल्म ही हरियाणवी पृष्ठभूमि पर बन रही है। हरियाणवी में काम करने वाले भी इस बढ़ती प्रतियोगिता को भांप रहे हैं जिससे उन्हें अपने काम की गुणवत्ता को बढ़ाने पर विवश होना पड़ा है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो हरियाणवी के नाम पर परोसी जा रही फूहड़ता को दूर करने के लिये वाकई चिंतित हैं और अपने काम से एक वैकल्पिक व साफ सुथरी सांस्कृतिक तस्वीर उकेरना चाहते हैं।

2017 में आया गाना बरकत, विक्रम मलिक और आदित्य रोहिला का गाया और मोहन बेताब का लिखा यह गीत मुझे 2017 का सर्वश्रेष्ठ गीत लगा, गाने के बोल, संगीत, फिल्मांकन सब अव्वल दर्जे का। संगीत व फिल्मांकन की दृष्टि से इसी के आस-पास एक गीत और आया था नाम था डोरा यह भी संगीत के नज़रिये से काफी अच्छा गीत रहा। हालांकि डीजे पर बजने वाले तो बहुत सारे गीत रहे।

 

ऐसे में आने वाले समय की एक बेहतर तस्वीर कुछ कुछ उभर रही थी। जिसका परिणाम यह है कि नव वर्ष 2018 की शुरुआत मुंह मीठा करादे से हुई। हरियाणवी की असली मिठास लिये यह गीत मुकेश आल्हान ने जितनी प्रेम व माधुर्य, सरलता व सहजता के साथ लिखा है।सोमवीर कथुरवाल की मधुर आवाज़ और बीएमवी स्टूडियोज़ के संगीत ने इसे उतना ही मिठा बनाया भी है। पवन राज की कोरियोग्राफी ने भी पूरा माहौल बना रखा है जिससे गाने का विडियो भी काफी अच्छा बना है। उम्मीद है 2018 में मुंह बार-बार मिठा होता रहेगा।

व में सोनोटेक ने रीलिज़ किया है।

कोये दुआ साची सी लाग गई

तू आई जिंदगी मैं मेरी किस्मत जाग गई

हो लिया सै म्हारा ब्याह रै बावली

इब तू ना शरमां रै बावली

सब रजामंद सैं, छाया आनंद सै कह री संजोंगा आळी रात

मुंह मीठा करादे

हाये गोरी रै मुंह मीठा करादे

 

नीचे दिये लिंक से आप पूरा गाना देख व सुन सकते हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=o7ck9-dNBG0

जल्द ही गीता सिंह की आवाज़ व अमित चौधरी के निर्देशन में मस्त मलंग गाना भी रीलिज़ हो रहा है। इस गाने का प्रोमोशन भी काफी अच्छा किया जा रहा है। सोनोटेक इसे 2 जनवरी को रीलिज़ कर रही है। उम्मीद है आपको यह गाना भी पसंद आयेगा।

मस्त मलंग भी बिल्कुल नये अंदाज का गाना है और लड़कियों के लिये जिस तरह के शब्द हरियाणवी गानों में देखने को मिलते हैं शायद यह गाना उन भ्रांतियों को तोड़े। मस्त मलंग की समीक्षा व कलाकार से मुलाकात जल्द ही करवायेंगें।

हरियाणा खास से जगदीप सिहँ की खास रिपोर्ट…..

मुंह मीठा करादे – सांस्कृतिक रुप से हरियाणा के लिये 2018 की बेहतरीन शुरुआत   Reviewed by on . मुंह मीठा करादे – सांस्कृतिक रुप से हरियाणा के लिये 2018 की बेहतरीन शुरुआत   हरियाणवी गाने अगर यू ट्यूब पर सर्च किये जायें तो किसी भी भले व्यक्ति को निराशा हाथ मुंह मीठा करादे – सांस्कृतिक रुप से हरियाणा के लिये 2018 की बेहतरीन शुरुआत   हरियाणवी गाने अगर यू ट्यूब पर सर्च किये जायें तो किसी भी भले व्यक्ति को निराशा हाथ Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top