Thursday , 19 October 2017

Home » खबर खास » नरसिंह यादव डोपिंग मामला – नाडा पर टिकी निगाहें

नरसिंह यादव डोपिंग मामला – नाडा पर टिकी निगाहें

भारतीय कुश्ती संघ का दावा खाने में मिलाई गई दवा

July 28, 2016 10:55 am by: Category: खबर खास 1 Comment A+ / A-

nar singh

 

रियो ओलिंपिक का टिकट मिलने के बाद भी अपने दांव दिखाने के लिये संघर्ष कर रहे पहलवान नरसिंह यादव पर डोपिंग के बाद संकट और गहरा गया है। यादव से जुड़े डोपिंग मामले में अब सबकी निगाहें आज यानि गुरुवार को आने वाले नाडा के फैसले पर टिकी हैं। सुनने में आ रहा है कि 5 जुलाई को हुए दूसरे टोप टेस्ट में भी यादव फेल हो गए जिससे उनके ओलिंपिक में भाग लेने की संभावनाएं बिल्कुल न के बराबर हो गई हैं।

 

शुरुआत में कहा जा रहा था कि नरसिंह को फसाने के लिये किसी ने फूड सप्लीमेंट में प्रतिबंधित दवा मिलाई है। लेकिन सूत्रों से खबर यह भी आ रही है कि फूड सप्लीमेंट में दवा मिलाने का नरसिंह का दावा गलत निकला है।

 

एक टीवी चैनल से बातचीत में भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष ब्रजभूषण ने कहा कि सोनीपत स्थित स्पोर्टस अथोरिटी ऑफ इंडिया यानि साई में कैंप के दौरान नरसिंह के खाने में प्रतिबंधित दवा मिलाने वाले संदिग्ध की पहचान हो गई है। हालांकि नरसिंह ने इस मामले में सोनीपत में एफआईआर भी दर्ज करवाई है। पुलिस छानबीन के बाद ही कोई कार्रवाई करेगी।

 

 

डोप टेस्ट विवाद से जुड़ी कुछ अहम बातें

 

25 जून को डोप टेस्ट में फेल होने के बाद इस मामले को लेकर विवाद हुआ लेकिन 5 जुलाई को नाडा यानि नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी की ओल से किये गये दूसरे टेस्ट में भी फेल हो गये हैं।

 

सूत्रों का कहना है कि फूड सप्लीमेंट में प्रतिबंधित दवा की मिलावट का दावा गलत निकला है लेकिन खाने में मिलावट जिसे लेकर नरसिंह ने एफआईआर दर्ज की गई है पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता।

 

एफआईआर दर्ज करवाने के बाद पुलिस का कहना है कि नरसिंह की शिकायत फिलहाल एक आरोप है। इसमें अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। आरोपी के खिलाफ कोई भी कार्रवाई करने से पहले मामले की छानबीन की जायेगी।

 

भारतीय कुश्ती संघ है नरसिंह के साथ

 

भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष ब्रजभूषण ने दावा किया है कि सोनीपत कैंप में नरसिंह के खाने में दवा मिलाने वाले की पहचान हो गई है। आरोपी ने इसे स्वीकार भी किया है। बताया जा रहा है कि खाना बनाते हुआ छौंक (तड़का) लगाते हुए दवा मिलाई गई। उन्होंने यह भी कहा है अंतर्राष्ट्रीय पहलवान नरसिंह 50 से भी ज्यादा बार कुश्ती लड़ चुके हैं और हर बार डोप टेस्ट के लिये तैयार रहते हैं उन्होंने कभी भी इसके लिये मना नहीं किया। यहां तक कि नाडा भी नरसिंह की इस बात की तारीफ करता है। भारतीय कुश्ती संघ के ने आरोपी के बार में इतना ही बताया है कि आरोपी सीनियर अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी का भाई है और छत्रसाल अखाड़े में प्रैक्टिस करता है। साई सेंटर के रसोइये ने भी इसकी पहचान की है। घटनाक्रम की सीसीटीवी फूटेज न मिलने पर नरसिंह ने साई अधिकारियों के शामिल होने की आशंका भी जताई है। नरसिंह यादव ने इस पूरे मामले की सीबीआई जांच करवाने की मांग भी की है।

 

क्या बुल्गारिया में हुई नरसिंह के साथ साजिश

एक और राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय मीडिया का फोकस जहां सोनीपत साई में खाने में दवा मिलाने पर हो गया है वहीं यह बातें भी सामने आ रही हैं कि जब खाने में मिलावट की आशंका हुई तभी उस लड़के को पकड़ लिया गया था और खाने को भी फेंक दिया गया था। दूसरी बात यह आ रही है कि 2 जून को बुल्गारिया जाने से पहले भी नरसिंह का डोप टेस्ट हुआ था जिसमें वह पास हो गया था। जिससे लड़के द्वारा मिलाई गई दवा का असर नहीं होने की और ईशारा किया जा रहा है। तो सवाल बनता है कि क्या बुल्गारिया में नरसिंह के साथ साजिश हुई। क्योंकि बुल्गारिया से 22 जून को नरसिंह की वापसी बताई जा रही है जिसके बाद 25 जून और 5 जुलाई नरसिंह का टेस्ट हुआ जिनमें वे फेल हुए। ( संदर्भ – फूल कुमार मलिक की फेसबुक वॉल से )

 

नरसिंह फेल तो कौन होगा पास

 

भारतीय कुश्ती संघ ने नरसिंह के स्थान पर प्रवीण राणा को नरसिंह के विकल्प के तौर पर भेजने की बात कही थी लेकिन केंद्रीय खेल मंत्री विजय गोयल ने सपष्ट रुप से कहा है कि निलंबित खिलाड़ी के स्थान पर नये खिलाड़ी को नहीं भेजा जा सकता। इस पूरे हालात से यही लग रहा है कि भारत के हाथ से रियो ओलिंपिक में कुश्ती में एक पदक की दावेदारी मैदान में उतरने से पहले ही समाप्त हो जायेगी।

 

नरसिंह यादव डोपिंग मामला – नाडा पर टिकी निगाहें Reviewed by on .   रियो ओलिंपिक का टिकट मिलने के बाद भी अपने दांव दिखाने के लिये संघर्ष कर रहे पहलवान नरसिंह यादव पर डोपिंग के बाद संकट और गहरा गया है। यादव से जुड़े डोपिंग   रियो ओलिंपिक का टिकट मिलने के बाद भी अपने दांव दिखाने के लिये संघर्ष कर रहे पहलवान नरसिंह यादव पर डोपिंग के बाद संकट और गहरा गया है। यादव से जुड़े डोपिंग Rating: 0

Comments (1)

Leave a Comment

scroll to top