Saturday , 25 November 2017

Home » खबर खास » रियो म्ह हरियाणै तै उम्मीद

रियो म्ह हरियाणै तै उम्मीद

August 12, 2016 2:45 pm by: Category: खबर खास 1 Comment A+ / A-

कहते हैं अपने खून से सबको उम्मीदें होती है। अपने हरियाणा में पैदा, अपनी मिट्टी में पैदा, अपने रज कण में लोट पोट होकर, हरियाणे का दूध-दही खाकर, जो शरीर मजबूत हुए हैं, जो बेटियां-बेटे रियो तक गए हैं, उनसे भला कैसे उम्मीद न होगी हमें… और ये सच भी है कि जब भी कोई हरियाणा का बेटा अपने पंच से विदेशी खिलाड़ी को मात देता है तो कभी हिसार, कभी भिवानी में बैठे उनके माओं-पापाओं की आंखे खुशी से छलक पड़ती होंगी। आपकी अपनी वेबसाईट ‘हरियाणा ख़ास’ इन रणबांकुरों पर पैनी नजर बनाए हुए है जो पल-पल की जानकारी आपको देर-सबेर देती रहती है। जब हरियाणा रोशन होता है तो पूरा देश रोशन होता हैvikas krishan hariyana

रियो ओलिंपिक में भारतीय हॉकी टीम नीदरलैंड से हारने के बाद भी क्वार्टर फाइनल में पहुंच ही गई है। 1980 के मॉस्को ओलिंपिक के बाद भारत पहली बार ओलिंपिक के क्वार्टर फाइनल में पहुंचा है। ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि पूल बी में ही ओलिंपिक चैम्पियन जर्मनी और अर्जेंटीना के बीच मैच ड्रॉ हो गया था। इस ग्रुप में छह प्वाइंट के साथ भारत तीसरी पोजिशन पर है। वहीं, टेनिस के मिक्स्ड डबल्स मुकाबलों में सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना की जोड़ी क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई। बैडमिंटन में पीवी सिंधू और साइना नेहवाल ने अपने-अपने पहले मैच जीत लिए हैं।

हालांकि, डबल्स मुकाबलों में पुरूष और महिला जोड़ियों को हार का सामना करना पड़ा है। तीरंदाजी में दीपिका कुमारी-बोम्बायला देवी और बॉक्सिंग में शिवा थापा हार गए। हार या जीत यूं तो एक ही सिक्के के दो पहलू हैं मगर पूरे विश्व के देशों से गए खिलाड़ियों में 119 खिलाड़ियों का सबसे बड़ा दल भारत का है जिसमें से 22 खिलाड़ी अकेले हरियाणा के हैं। बॉक्सिंग में यादव ने जिस दिन प्री-क्वार्टर में प्रवेश किया, हरियाणा के लोगों ने शायद टीवी का रिमोट उसी दिन छोड़ दिया होगा और निश्चय ही उम्मीद पर अपनी आंखों पुतलियां जमा ली होंगी।

उधर टेनिस के मिक्स्ड डबल्स मुकाबलों में सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना की जोड़ी पहले राउंड का मैच जीतकर क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई है।  प्री-क्वार्टर में भारतीय जोड़ी ने ऑस्ट्रेलिया की सामन्था स्टोसुर और जॉन पीयर्स की जोड़ी को 7-5, 6-4 से हरा दिया। बता दें कि भारतीय जोड़ी ने पहला सेट 36 मिनट में और दूसरा सेट 37 मिनट में जीता।  अगले दौर में शुक्रवार रात सानिया-बोपन्ना का मुकाबला ब्रिटेन के एंडी मरे और हेदर वाटसन की जोड़ी से होगा। साइना का अगला मैच 14 अगस्त को यूक्रेन की मारिजा यूलीतिना से होगा। वहीं, पीवी सिंधू का मुकाबला कनाडा की मिशेल ली से होगा। खैर, हरियाणा ख़ास अपने खिलाड़ियों पर नजर जमाए हुए हैं, करते रहिए क्लिक जानते रहिये देश और प्रदेश की रियो ओलिंपिक मशक्कत।

रियो म्ह हरियाणै तै उम्मीद Reviewed by on . कहते हैं अपने खून से सबको उम्मीदें होती है। अपने हरियाणा में पैदा, अपनी मिट्टी में पैदा, अपने रज कण में लोट पोट होकर, हरियाणे का दूध-दही खाकर, जो शरीर मजबूत हुए कहते हैं अपने खून से सबको उम्मीदें होती है। अपने हरियाणा में पैदा, अपनी मिट्टी में पैदा, अपने रज कण में लोट पोट होकर, हरियाणे का दूध-दही खाकर, जो शरीर मजबूत हुए Rating: 0

Comments (1)

  • Dharmveer

    बहुत अच्छा लिखा है

Leave a Comment

scroll to top