Friday , 24 November 2017

Home » साहित्य खास » अर्नेस्ट हेमिंग्वे हैं सिक्स वर्ड स्टोरी के जनक

अर्नेस्ट हेमिंग्वे हैं सिक्स वर्ड स्टोरी के जनक

सोशल नेटवर्किंग पर छाई हुई है छई कहानी

June 22, 2016 3:36 pm by: Category: साहित्य खास Leave a comment A+ / A-

hemingway

 

आजकल #‎sixwordstories यानि छह शब्दों की कहानी का चलन ट्विटर से लेकर फेसबुक तक कई सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर छाया हुआ है। इसमें केवल छह शब्दों में आपको कहानी कहनी होती है। यह एक प्रकार से आसान भी है और बहुत मुश्किल भी, रचनात्मकता तो इसमें है ही एक और जहां कुछ लोग मात्र हैशटैग देखकर छह शब्दों में कुछ भी लिख रहे हैं वहीं कुछ बहुत ही अच्छी पंक्तियां भी सामने आ रही हैं। आपमें से भी बहुत से लोग ऐसे हो सकते हैं जो छह शब्दों की कहानी की परंपरा को नहीं जानते होंगे तो आइये आपको बताते हैं कैसे शुरु हुई छह शब्दों में कहानी लिखने की यह परंपरा।

 

छह शब्दों की कहानी की कहानी अर्थात छई कहानी

 

छह शब्दों में कहानी लिखने की परंपरा बेशक हाल ही में सोशल नेटवर्किंग पर काफी रैंक कर रही हो लेकिन यह परंपरा नई नहीं हैं बल्कि इसका अपना इतिहास है। सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर ही इस कहानी परंपरा से जुड़े इतिहास से संबंधी सूचनाएं भी प्रेषित हो रही हैं। गूगल करने पर पता चला कि अति लघु कथा या कहें अति लघु वाक्य कथा के प्रवर्तक और जन्मदाता या कहें जनक अर्नेस्ट हेमिंग्वे हैं। For Sale, Baby shoes, Never Worn. उनकी छह शब्दों में लिखी पहली कहानी है। इसी को पहली छई कहानी होने का गौरव प्राप्त है। हालांकि कुछ यह भी मानते हैं कि यह उनकी कहानी नहीं है लेकिन कुछ इसका पूरा ब्यौरा प्रस्तुत करते हुए लिखते हैं कि एक रेस्तरां में दोस्तों के साथ इस बात पर बहस हो गई कि क्या कम से कम शब्दों में भी कहानी कही जा सकती है तो हेमिंग्वे ने इस चुनौति को स्वीकार किया और शर्त लगने के पश्चात एक नेपकिन पर इस कहानी को लिखकर इसे प्रेषित किया और शर्त जीत ली। वहीं इसे अखबार में छपे एक विज्ञापन से भी जोड़ा जाता है

 

 

 

baby-shoes-never-worn

 

क्यों चल रहा है छई कहानी का चलन

 

हालांकि ट्विटर पर यह बहुत पहले से चल रहा है और फेसबुक पर पिछले कुछ दिनों से रैंक कर रहा है दरअसल 2008 में सिक्सवर्डस्टोरी नाम से वैबसाइट भी चलन में है। लेकिन फिलहाल इसके चलन का श्रेय रैडइट को दिया जा रहा है। इसका एक कारण यह भी माना जा रहा है कि 2 जुलाई को अर्नेस्ट हेमिंग्वे की पुण्यतिथि है जिस कारण इस विधा का चलन बढ़ रहा है।

खैर वजह चाहे कुछ भी हो लेकिन इस चलन से एकाएक सबके अंदर का लेखक जाग गया है और अपनी संवेदनाओं को छह शब्दों में उकेरने में लगा हुआ है। कई लेखकों ने काफी गंभीर पंक्तियां भी लिखी हैं।

 

फेसबुक पर वायरल हुई कुछ छई कहानियां

 

  1. कहानी होती, संवार लेते, ज़िंदगी थी।
  2. वह अदृश्य स्त्री- मरी तो दिखी।
  3. बेटे ने सीखा, मां भूली चलना।
  4. वह चुप रहा,चुप्पी बोलती रही।
  5. चलने से बनी पगडंडी, खुला रास्ता।
  6. वह कई साल मरता रहा- बेखबर।
  7. दुख की पोटली में भी सुख!
  8. सम्मोहन था, हिचक थी, प्रेम था।
  9. रोटी थी, नमक था, स्वाद था।
  10. घर छूटा नहीं, साथ चलता रहा।
  11. गलती की, सुधारी, मगर कौन देखता?
  12. कुछ कहूं?नहीं। बात होती रही।
  13. दीवार टूटती तो घर बन पाता।
  14. हत्यारे रोते थे, क्यों इतनी हत्या?
  15. हत्यारे खुश हैं- सत्ता तो मिली।
  16. तुम तब आओगे, जब चला जाऊंगा।
  17. पतंग उड़ी, कटी। सोगवार हुआ आसमान।
  18. रोता नहीं हूं, कह, रो पड़ा।
  19. घड़ा भर दुख, एक चुल्लू जीवन।
  20. वह साथ था, मगर कहां था?
  21. सोचा, रो पड़े, काश न सोचते
  22. मौत पीछे थी, भागा मगर बेकार।
  23. प्रेम था, ये भ्रम था, टूटा।
अर्नेस्ट हेमिंग्वे हैं सिक्स वर्ड स्टोरी के जनक Reviewed by on .   आजकल #‎sixwordstories यानि छह शब्दों की कहानी का चलन ट्विटर से लेकर फेसबुक तक कई सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर छाया हुआ है। इसमें केवल छह शब्दों में आपको कहा   आजकल #‎sixwordstories यानि छह शब्दों की कहानी का चलन ट्विटर से लेकर फेसबुक तक कई सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर छाया हुआ है। इसमें केवल छह शब्दों में आपको कहा Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top