Thursday , 15 November 2018

कैसे हो कवि

कैसे हो कवि

कैसे हो कवि तुम प्रतिबंधित नहीं हो  तुमसे है प्रतिबंध तुम्हारे शब्दों से डर जाती है सरकार तुम्हारी उपस्थिति से कानून के पैर होने लगते हैं कमजोर पुलिस की सांस अटक जाती है छाती में ...

Read More »
पसीने के बल सृजन

पसीने के बल सृजन

किसी व्यक्ति को बढ़ी दाढ़ी व घिसे कपड़ों में ऊंटगाड़े पर बैठ नित खेत जाते देख कौन कह सकता है कि यह राजस्थानी का बड़ा कथाकार और कवि है। पर यह सच है। रामस्वरूप किसान राजस्थानी कथा-स ...

Read More »
क्यों उड़ाया गया दोपदी का फेसबुक अकाउंट ?

क्यों उड़ाया गया दोपदी का फेसबुक अकाउंट ?

“कवि हूं, आदीवासी हूं, संघर्षों भरी अपनी कथा रही“ बस ! इतना सा परिचय... और इतना काफी भी था सियासत की रंगत फीकी करने करने के लिए। नाम दोपदी सिंघार। व्यवसाय- निजि स्कूल में अध्यापिक ...

Read More »
scroll to top