Monday , 28 May 2018

बलवन्त सिंह आजाद – एक गुमनाम योद्धा

बलवन्त सिंह आजाद – एक गुमनाम योद्धा

बलवन्त सिंह आजाद - एक गुमनाम योद्धा                     पिछले दिनों राजस्थान में संगरिया, हनुमानगढ़ के पास गया हुआ था एक दोस्त से मिलने। दोस्त से किसान, मजदूर, महिला मुद्दों पर चर् ...

Read More »
कामरेड लेनिन के स्टेचू पर हमला भगत सिंह के विचार को मारने कि हिन्दुत्व की असफल कोशिश

कामरेड लेनिन के स्टेचू पर हमला भगत सिंह के विचार को मारने कि हिन्दुत्व की असफल कोशिश

कामरेड लेनिन के स्टेचू पर हमला भगत सिंह के विचार को मारने कि हिन्दुत्व की असफल कोशिश सुबह-सुबह Whatsaap पर वीडियो मिला। मेरे अजीज साथी गौतम ने भेजा था। वीडियो में हिंदुत्व तालिबान ...

Read More »
भगत सिंह – कितने दूर कितने पास

भगत सिंह – कितने दूर कितने पास

भगत सिंह हमारी राष्ट्रीय चेतना में कितने गहरे बसे हैं इसका अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि धुर दक्षिणपंथी दलों से लेकर धुर वामपंथी दलों तक उन्हें अपना नायक बनाने और उनसे अपन ...

Read More »
चौधरी छाजूराम ने की थी भगत सिंह की मदद? – इस झूठ से पर्दा उठाया जाए

चौधरी छाजूराम ने की थी भगत सिंह की मदद? – इस झूठ से पर्दा उठाया जाए

हरियाणा की एक प्रगतिशील पत्रिका में चौधरी छाजूराम के संघर्षों पर प्रकाशित एक लेख पर एक पाठक का संपादक के नाम खुला खत   प्रिय, सम्पादक महोदय, मै लम्बे समय से आपकी पत्रिका पढ़ता आ रह ...

Read More »
हम भी आराम उठा सकते थे घर पर रह कर

हम भी आराम उठा सकते थे घर पर रह कर

यह पंक्तियां शहीद भगतसिंह को बहुत प्रिय थीं और वे अक्सर इनको गुनगुनाया करते थे ‘हमको भी मां बाप ने पाला था दुख सह सह कर हम भी आराम उठा सकते थे घर पर रह कर वक्ते रुखसत इतना भी न आए ...

Read More »
scroll to top