Saturday , 18 November 2017

अभिव्यक्ति पर खतरे और प्रेस दिवस  

अभिव्यक्ति पर खतरे और प्रेस दिवस  

राष्ट्रीय प्रेस दिवस। यानि मीडिया को अपनी जिम्मेदारी और निष्पक्षता की याद दिलाने वाला दिन। यूं तो मीडिया का अर्थ मीडियम या माध्यम होता है यानि समाज के विभिन्न वर्गों, सत्ता केन्द् ...

Read More »
विश्व मधुमेह दिवसः व्यापक जागरूकता की दरकार  

विश्व मधुमेह दिवसः व्यापक जागरूकता की दरकार  

मधुमेह या शुगर। यानि शरीर में अग्नाश्य द्वारा इंसुलिन का स्त्राव कम होने के कारण पैदा होने वाली एक ऐसी बिमारी जिससे रक्त में ग्लूकोज का स्तर बढ़ जाता है और मरीजों में रक्त कोलेस्ट ...

Read More »
अनैतिकता के ठेकेदार म्हारे रूखाले

अनैतिकता के ठेकेदार म्हारे रूखाले

एक चाला आजकाल कसूता देख्या अक असल मैं जो म्हारा सबतै बड्डा बैरी सै ओ हमनै सबतै प्यारा लागै सै अर असल मैं जो म्हारा भला चाहवै सै ओ हमनै अपणा पक्का बैरी दीखै सै। भाषा सबकी एक फेर का ...

Read More »
नोटबंदी पर मोदी विरोधी की कविताएं

नोटबंदी पर मोदी विरोधी की कविताएं

  1 भक्त मार रहे रूक्के मोदी नै बोल्ड स्टैप उठाया है मैं कहूं इस एक कदम नै पूरा देश रंभाया है वें मारैं सैं रूके इसतै काळा धन काबू आ ज्यागा मैं कहूं काळा धोळा हो लिया इब बता ...

Read More »
नोटबंदी – रै मोदी.. तनै आच्छी गोभी खोदी

नोटबंदी – रै मोदी.. तनै आच्छी गोभी खोदी

रै मोदी तनै आच्छी गोभी खोदी कवि इंद्रजीत की यह कविता फेसबुक से लेकर व्हट्सएप तमाम सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई.... कुछ ने तो इस कविता को अपने नाम तो कुछ ने अज्ञात नाम से ही प्रका ...

Read More »
हरियाणा की तिग्गी

हरियाणा की तिग्गी

तिग्गी का मतलब तीन चीजां का तिग्गड्डा, मतलब तीन चीज इकट्ठी। एक तिग्गी का मतलब ताश की तिग्गी। पान की तिग्गी, ईंट की तिग्गी, चिड़ी की तिग्गी अर हुकम की तिग्गी। दूसरी तुरुप की तिग्गी। ...

Read More »
रियो ओलिंपिकः हरियाणा के संदीप तोमर से उम्मीद

रियो ओलिंपिकः हरियाणा के संदीप तोमर से उम्मीद

नौसेना के युवा पहलवान संदीप तोमर ने उलन बटोर में रविवार को विश्व क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में पुरुषों की फ्रीस्टाइल स्पर्धा के 57 किलो वर्ग में कांस्य पदक हासिल करते हुए रियो ओलिम्प ...

Read More »
रियो म्ह हरियाणै तै उम्मीद

रियो म्ह हरियाणै तै उम्मीद

कहते हैं अपने खून से सबको उम्मीदें होती है। अपने हरियाणा में पैदा, अपनी मिट्टी में पैदा, अपने रज कण में लोट पोट होकर, हरियाणे का दूध-दही खाकर, जो शरीर मजबूत हुए हैं, जो बेटियां-बे ...

Read More »
बेटी बचाओ बेटी पढाओ लेकिन क्यों और कैसे?

बेटी बचाओ बेटी पढाओ लेकिन क्यों और कैसे?

-जगदीप सिंह हरियाणा में वैसे तो बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की मुहिम रंग ला रही है और सरकार ने दावा किया है कि पिछले दस सालों में पहली बार लिंगानुपात कम होने के सकारात्मक परिणाम सामने आय ...

Read More »
सुभाष चंद्रा को बधाई तो मिली लेकिन जीत?

सुभाष चंद्रा को बधाई तो मिली लेकिन जीत?

अब राज्यसभा को आप एक रंगमंच और चुनाव को नाटक कह सकते हैं अरे भई मजाक नहीं उड़ा रहा हूं पिछले कुछ दिनों से राज्यसभा चुनाव का नाटक ही तो चल रहा है। जोड़-तोड़ लगाकर अपनी जीत की बधाई ...

Read More »
scroll to top