Saturday , 25 November 2017

Home » खबर खास » पूरे भारत को रूला गई विनेश की दुर्भाग्यवश हार

पूरे भारत को रूला गई विनेश की दुर्भाग्यवश हार

August 17, 2016 9:47 pm by: Category: खबर खास Leave a comment A+ / A-

कहते हैं जब भाग्य साथ न दें तो परिस्थितियां कुछ भी करवा सकती हैं। विनेश की दुखदायी हार से शायद कौन भारतीय आहत न होगा। शायद इसे दुर्भाग्य ही कहेंगे भारत का… जब कोई उम्मीद के आखिरी क्षणों में चोट का शिकार हो जाए। रियो ओलिंपिक में भारत का अब तक का सफर जहां एक ओर निराशाजनक रहा है, विनेश फोगाट के चोट लगने की खबर और जियादा निराश करने वाली है।

vinesh

बता दें कि अगर भारत रियो में खाता भी नहीं खोल पाया तो तो 1992 के बाद यह पहला ओलंपिक होगा जब भारतीय दल बिल्कुल खाली हाथ आएगा। अब बस कुश्ती और बैडमिंटन में सिंधू से भारत की उम्मीद है। भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगाट ने 48 किलोग्राम भार वर्ग में प्री-क्वाटरफाइनल खेलते हुए रूमानिया की पहलवान को चित करके क्वार्टरफाइनल में जगह बनाई थी, जिसमें विनेश का मुकाबला क्वार्टरफाइनल में चीन की महिला पहलवान से हुआ।

इसी दौरान चीनी खिलाड़ी ने दांव लगाते हुए विनेश का घुटना (गट्टा) पकड़ लिया जिसके बाद विनेश घायल हो गई। यही कारण रहा कि अत्याधिक चोट के चलते विनेश खड़ी नहीं हो पाईं, और उसे मैदान से स्ट्रैचर पर उठाकर ले जाना पड़ा। परिणाम ये हुआ कि विनेश मैच से बाहर हो गई। वहीं आपको बता दें कि अगर चाईना की विजेता खिलाड़ी फाइनल में पहुंच जाती है और विनेश फिर से मैदान में उतरने लायक हो जाती हैं तो उनके पास एक भी रैफरल के जरिए मुकाबला करने का मौका होगा।

पूरे भारत को रूला गई विनेश की दुर्भाग्यवश हार Reviewed by on . कहते हैं जब भाग्य साथ न दें तो परिस्थितियां कुछ भी करवा सकती हैं। विनेश की दुखदायी हार से शायद कौन भारतीय आहत न होगा। शायद इसे दुर्भाग्य ही कहेंगे भारत का... जब कहते हैं जब भाग्य साथ न दें तो परिस्थितियां कुछ भी करवा सकती हैं। विनेश की दुखदायी हार से शायद कौन भारतीय आहत न होगा। शायद इसे दुर्भाग्य ही कहेंगे भारत का... जब Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top